Hindi Story
Home Hindi शेतानमल कैसे भुला शेतानी

शेतानमल कैसे भुला शेतानी

एक गाँव में लड़का रहता था जिसका नाम शेतानमल था जैसा उसका नाम वैसा उसका काम | वो हर वक्त हर किसी को तंग ही करता रहता था | उसके माँ-पिता हमेशा उसको समझाते लेकिन वो कभी भी उनकी बात नहीं सुनता था |

असल में उसका नाम सुंदर था लेकिन गाँव वालो ने उसकी आदतों की वजह से उसका नाम बदल कर शेतानमल रख दिया था |

एक बार की बात है उसके घर के सभी सदस्य बाहर गए हुए थे वो बिलकुल अकेला था | उसी गली में एक मर्गा-मुर्गी और उनके कई दोस्त रहते थे शेतानमल हमेशा उनको बहुत तंग करता था |

एक दिन की बात है की मुर्गा और मुर्गी ने सोचा की क्यों न शेतानमल को सबक सिखाया जाए | उन्होंने अपने सभी दोस्तों से बात की और सब जानवर मिलकर शेतानमल ने घर की तरह चल पड़े |

एक – एक कर के सभी जानवर उसके घर में घुस गए | लेकिन शेतानमल घर पर नहीं था | मुर्गे ने कहा, “हम लोग शेतानमल का इंतजार करेगे और फिर सभी जानवर कही न कही जा कर छिप गए जैसे बिल्ली रसोई में, चूहा उसके नल में, कुता गुलदस्ते के पीछे और मुर्गा – मुर्गी दरवाजे के पीछे छिप गुए |

जैसे ही शेतानमल घर में गुसा, तभी कुतो ने भोकना शुरू कर दिया | वो डर के मरे रसोई में गुसा तो तभी बिल्लियों ने उस पर झपटा मार दिया और वो घबराकर आटे के डिब्बे में जा गिरा |

मुह धोने के लिए वो नल की तरफ भगा | खोलते ही चूहे ने उसके हाथ को काट लिया | दर्द से चीखता हुआ उसने तोलिया उठाया मुह साफ करने के लिए तो उसका मुह सारा कबूतर की बिट से भर गया |

शेतानमल की हालत बहुत ख़राब हो गई थी | वो घबराकर दरवाजे की और भागा तो मुर्गे-मुर्गी ने उसको चोंच मारना शुरू कर दिया और वो सिर के बल नीचे गिर गया और बेहोश हो गया |

जब उसे होश आया तो उसके घर पर कोई नहीं था और सारा घर भिखरा हुआ था | उसे आज समझ आया की किसी को परेशान करने पर कैसा लगता है |

उस दिन से शेतानमल ने किसी और भी तंग नहीं किया और धीरे-धीरे गाँव वालो ने भी उसे शेतानमल कहना बंद कर दिया |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

भारत में शीर्ष 10 शैम्पू ब्रांड की सूचि

क्या आप भी उन लोगों में से हैं जो बालों की समस्याओं से पीड़ित हैं? या .. क्या आप भी प्रदुष…