Home Hindi समय की कीमत

समय की कीमत

अभी समय है, अभी नहीं कुछ भी बिगड़ा है

देखो अभीसुयोग तुम्हारे पास खड़ा है

करना है जो काम उसी ने अपना चित्त लगा दो

अपने पर विश्वास करो, और संदेह भगा दो |

 

पूर्ण तुम्हारा मनोमिष्ट क्या कभी न होगा?

होगा तो बस अभी, नहीं तो कभी न होगा,

देख रहे हो श्रेष्ट समय के क्किस सपने को

छलते हो यो हाय ! स्वयं ही क्यों अपने को|

 

तुच्छ कभी तुम न समझो एक पल को भी

पल – पल से ही बना हुआ जीवन को मानो तुम

इसके सद्व्यय रूप नीर सिंचन के द्ववारा

हो सकता है सफल जन्मतरु यहाँ तुम्हारा|

ऐसा सुसमय भला और कब तुम पाओगे

खोकर पीछे इसे सर्वथा तुम पछताओगे,

तो इसमें वह काम नहीं क्यों तुम कर जाओ

हो जिसमे परमार्थ तथा तुम भी सुख पओगे|

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

भारत में शीर्ष 10 शैम्पू ब्रांड की सूचि

क्या आप भी उन लोगों में से हैं जो बालों की समस्याओं से पीड़ित हैं? या .. क्या आप भी प्रदुष…